Sunday , September 25 2022

यूपी : तपोस्थली चित्रकूट ‘फ्री जोन’ घोषित, नहीं देना होगा यात्रीकर


लखनऊ।

उत्तर प्रदेश के बाद अब मध्य प्रदेश सरकार ने भी धार्मिक नगरी चित्रकूट में एक दूसरे राज्यों की सीमा से गुजरने वाले वाहनों को यात्री कर से मुक्त घोषित कर दिया है।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को मध्य क्षेत्रीय परिषद की 23वीं बैठक में दोनों राज्य सरकारों की आपसी सहमति से किये गये इस फैसले की जानकारी देते हुए बताया कि उप्र और मप्र में स्थित भगवान श्रीराम की तपोस्थली चित्रकूट को ‘फ्री जोन’ घोषित किया गया है। बैठक की अध्यक्षता केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने की।

योगी ने बैठक को वर्चुअल माध्यम से संबोधित किया। भोपाल में सोमवार को अचानक मौसम बिगड़ जाने के कारण योगी इस बैठक में हिस्सा लेने नहीं पहुंच सके। इसके साथ ही अब चित्रकूट में उप्र और मप्र के वाहनों को सीमा पर पैसेंजर टैक्स नहीं देना होगा। गौरतलब है कि

योगी सरकार 2021 में ही इस टैक्स को समाप्त करने की अधिसूचना जारी कर चुकी थी। मध्य प्रदेश सरकार ने भी परिषद की 23वीं बैठक को देखते हुए इस आशय का फैसला लागू करने की अधिसूचना जारी कर दी है।

बैठक में शाह ने राज्य सरकारों के बेहतर कामों की चर्चा करते हुए योगी सरकार के कामों की तारीफ की। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में लंबे अरसे बाद कानून व्यवस्था लागू हुई है। शाह ने कहा कि उत्तर प्रदेश में सालों से लंबित सिंचाई परियोजनाओं को पूरा किया गया, उनकी क्षमताओं का विस्तार किया गया और नई योजनाओं को शुरू किया गया। शाह ने मध्य क्षेत्रीय परिषद की ऋषिकेश में होने वाली अगली बैठक में सभी राज्य सरकारों से अपने तीन अच्छे कार्यों का प्रस्तुतिकरण देने को भी कहा। वर्चुअल माध्यम से बैठक को संबोधित करते हुए योगी ने कहा कि उत्तर प्रदेश की अर्थव्यवस्था को एक ट्रिलियन डॉलर का आकार देने के लिए राज्य सरकार ने कार्रवाई शुरु कर दी है।