Thursday , October 6 2022

यूपी : Levana fire के दोषी 15 अफसरों को सीएम योगी ने किया निलंबित

लखनऊ। पांच सितंबर 2022 को होटल Levana Suites में लगी आग से चार मौत के हादसे के लिए मंडलायुक्त डॉ. रोशन जैकब और पुलिस आयुक्त एसबी शिरडकर की जांच में 19 अधिकारी, इंजीनियर, कर्मचारी दोषी पाए गए हैं। इनमें से अभी सेवा में एक पीसीएस अधिकारी सहित 15 को शासन ने निलंबित कर दिया है। वहीं सभी के खिलाफ विभागीय कार्रवाई शुरू करा दी गई है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर देर रात हादसे के जिम्मेदारों के खिलाफ शासन ने कार्रवाई कर दी।

बृहस्पतिवार की रात को ही मंडलायुक्त व पुलिस आयुक्त ने अपनी जांच रिपोर्ट गृह विभाग को सौंप दी थी। इस जांच रिपोर्ट के आधार पर अब मुख्यमंत्री ने हादसे के लिए प्रथम दृष्ट्या दोषी और लापरवाही करने वाले अधिकारियों, इंजीनियरों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की है।

अब मुख्यमंत्री के निर्देश पर गृह विभाग, नियुक्ति विभाग, आबकारी विभाग के अधिकारियों को निलंबन कर विभागीय कार्रवाई शुरू करानी होगी। सेवानिवृत्त हो चुके जिम्मेदारों के खिलाफ भी विभागीय नियमों केमुताबिक कार्रवाई की जाएगी। शासन के प्रवक्ता का कहना है कि मुख्यमंत्री ने कार्रवाई के निर्देश जांच रिपोर्ट मिलने के बाद दिए हैं।

ये हैं चार मौतों के जिम्मेदार :
गृह विभाग : सुशील यादव, तत्कालीन अग्निशमन अधिकारी, अभयभान पांडेय, सेवानिवृत्त मुख्य अग्निशमन अधिकारी, योगेंद्र प्रसाद, अग्निशमन अधिकारी-द्वितीय, विजय कुमार सिंह, मौजूदा मुख्य अग्निशमन अधिकारी।

ऊर्जा विभाग : विजय कुमार राव, सहायक निदेशक, विद्युत सुरक्षा, आशीष कुमार मिश्रा, अवर अभियंता, राजेश कुमार मिश्रा, एसडीओ।

नियुक्ति विभाग : महेंद्र कुमार मिश्रा, पीसीएस, तत्कालीन विहित प्राधिकारी एलडीए, (मौजूदा अपर आयुक्त लखनऊ मंडल)।

आवास विभाग, एलडीए : अरूण कुमार सिंह, सेवानिवृत्त अधिशासी अभियंता, ओम प्रकाश मिश्रा, सेवानिवृत्त अधिशासी अभियंता राकेश मोहन, तत्कालीन सहायक अभियंता, जितेंद्र नाथ दुबे, अवर अभियंता, रविन्द्र कुमार श्रीवास्तव, अवर अभियंता, गणेशी दत्त सिंह, सेवानिवृत्त अवर अभियंता, जयवीर सिंह, अवर अभियंता, राम प्रताप, मेट, एलडीए।

आबकारी विभाग : संतोष कुमार तिवारी, तत्कालीन जिला आबकारी अधिकारी, लखनऊ, अमित कुमार श्रीवास्तव, तत्कालीन आबकारी निरीक्षक सेक्टर-1, जैनेन्द्र उपाध्याय, उप आबकारी आयुक्त, लखनऊ मंडल।