Friday , September 30 2022

धर्मांतरण कराने वाले मुखिया का लौंडा गिरफ्तार

लखनऊ। पूरे देश में चल रहे अवैध धर्म परिवर्तन के गिरोह का एक और सदस्य यूपी ATS ने गिरफ्तार कर लिया। गिरोह के मास्टरमाइंड मौलाना उमर गौतम का बेटा अब्दुल्ला गौतमबुद्धनगर में छिपा हुआ था। अब्दुल्ला के बैंक खातों में हवाला के जरिए विदेशों से फंड ट्रांसफर होने के साक्ष्य मिले है। जिनका इस्तेमाल धर्म परिवर्तन का बढ़ावा देने के लिए किया जा रहा था।

75 लाख रुपए के साक्ष्य मिले, 17 लाख विदेशों से आए

आईजी ATS जीके गोस्वामी ने बताया कि अब्दुल्ला के नई दिल्ली जामियानगर के बाटला हाउस में रहता था। मौलाना उमर गौतम के धर्मांतरण सिंडिकेट से जुड़े अब्दुल्ला गिरोह से जुड़े लोगों तक फंड पहुंचाता था। मौलाना अल फारुखी व मस्जिद और इस्लामिक दावा सेंटर (IDC)के कामकाज देखता था।

अब्दुल्ला के बैंक खातों में इन्हीं सोर्स से फंड ट्रांसफर होता था। इन बैंक खातों में अब तक 75 लाख रुपए के रिकार्ड मिले हैं। इसमें 17 लाख रुपए विदेशों से ट्रांसफर हुए हैं। लिंक बैंक अकाउंट भी खंगाले जा रहे हैं। अब्दुल्ला इस सिंडिकेट से जुड़े जहांगीर आलम, कौसर और फराज शाह से सीधे जुड़ा हुआ था। ये सभी मौलाना उमर के करीबी हैं।

यूके, अमेरिका व खाड़ी देशों से हवाला से आई फंडिंग

आईजी ने बताया कि उमर गौतम व इसके साथियों को विदेशों से हवाला के जरिए लगभग 57 करोड़ रूपए की फंडिंग की गई थी। यूके, अमेरिका व खाड़ी देशों से हवाला से धन भेजा गया। जिसके खर्च का ब्योरा उमर गौतम व इसके साथी नहीं दे सके थे। इसी फंड से संपत्तियां अर्जित की गईं।

मौलाना कलीम के ट्रस्ट खातों में 22 करोड़ की फंडिंग

उमर गौतम के ट्रस्ट ‘अल-हसन एजुकेशनल एंड वेलफेयर फाउंडेशन’ को फंडिंग देने वाले स्रोत से ही मौलाना कलीम सिद्दीकी के ट्रस्ट जामिया इमाम वलीउल्लाह ट्रस्ट को भी फंडिंग की गई थी। अभी तक की जांच में मौलाना कलीम के ट्रस्ट खाते में 22 करोड़ रूपए की फंडिंग के साक्ष्य मिले हैं। एडम और कौसर आलम के कब्जे से बरामद इलेक्ट्रॉनिक साक्ष्य से दोनों ‘जिहाद’ की हिंसात्मक विचारधारा से भी प्रभावित हैं। अल कायदा आतंकी समूह से संबंधित धार्मिक व्याख्यान से प्रभावित होकर प्रचार-प्रसार करते थे।

धर्मांतरण सिंडिकेट के 16 आरोपियों की देशभर से हुई है गिरफ्तारी

ATS ने 20 जून को उमर गौतम और जहांगीर को गिरफ्तार किया था। इसके बाद मौलाना कलीम सिद्दीकी, महाराष्ट्र नेटवर्क के रामेश्वर कावड़े उर्फ आदम उर्फ़ एडम, भूप्रिय बन्दो उर्फ अर्सलान मुस्तफा, कौशर आलम, हाफिज इदरीस, मोहम्मद सलीम, धीरज जगताप व सरफ़राज़ जाफरी, सलाउद्दीन आदि प्रमुख हैं।

अब तक इनकी हुई गिरफ्तारी

20 जून – सलाहुद्दीन जैनुद्दीन शेख

21 जून – मौलाना उमर गौतम

21 सितंबर – मौलाना कलीम सिद्दीकी