Thursday , October 6 2022

चोरी गई अन्नपूर्णा की प्राचीन प्रतिमा 108 साल बाद पहुंची काशी

15 को सीएम योगी मौजूदगी में प्रतिमा की होगी प्राण प्रतिष्ठा

वाराणसी। 108 साल पहले काशी से चोरी हुई मां अन्नपूर्णा की प्राचीन प्रतिमा गुरुवार की सुबह यूपी सरकार को हैंडओवर कर दी गई। 14 को यह प्रतिमा वाराणसी पहुंचेगी और 15 को काशी विश्वनाथ परिसर में स्थित मंदिर में स्थापित होगी। इस दौरान सीएम योगी की उपस्थिति में प्रतिमा की प्राण प्रतिष्ठा होगी। दिल्ली से मां अन्नपूर्णा की प्रतिमा सजे-धजे वाहन पर सवार होकर वाराणसी के लिए रवाना हो गई है। इस दौरान प्रतिमा की शोभायात्रा यूपी के 18 जिलों से गुजरेगी।

1913 में अन्नपूर्णा मां की प्रतिमा चोरी हुई थी। 2019 में कनाडा के विनिपेग में भारतीय मूल की आर्टिस्ट दिव्या मेहरा की नजर इस प्रतिमा पर पड़ी थी। इसके बाद भारत सरकार ने इसे वापस लाने की प्रक्रिया शुरू की। खुद पीएम मोदी ने अधिकारियों को इसके लिए निर्देश दिया। उनकी पहल पर तेजी से काम हुआ और प्रतिमा भारत आ गई।

केंद्रीय संस्कृति मंत्री किशन रेड्डी ने बृहस्पतिवार को देवी अन्नपूर्णा की मूर्ति दिल्ली में एक कार्यक्रम में उत्तर प्रदेश सरकार को सौंपी। इस मूर्ति को भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) कनाडा से वापस लाया है। भारतीय आधुनिक कला संग्रहालय (एनजीएमए) में आयोजित कार्यक्रम में केंद्रीय भवन एवं शहरी कार्य मंत्री हरदीप सिंह पुरी, केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी, केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान और राज्य मंत्री जनरल (सेवानिवृत्त) वीके सिंह समेत अन्य ने शिरकत की।