Thursday , September 29 2022

यादव परिवार पर आयकर के छापे से उखड़े सपा मुखिया अखिलेश, ले डाला आईटी, ईडी और सीबीआई तक नाम

लखनऊ। उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में होने वाले विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election) से पहले आयकर विभाग ने आज उत्तर प्रदेश में यादव परिवार पर के आवास समेत कई जगह पर छापेमारी की। बताया जाता है कि यह छापेमारी समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव के करीबी लोगों के ठिकानों पर मारे गए हैं. आयकर विभाग ने मनोज यादव और जैनेंद्र यादव, सपा प्रवक्ता राजीव राय और समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव के करीबियों के घर पर छापे मारे हैं. वहीं एसपी प्रमुख ने इन छापों को राजनीति से प्रेरित बताया और कहा कि जैसे जैसे चुनाव करीब आएंगे भारतीय जनता पार्टी को हार सताएगी और बीजेपी के बड़े बड़े नेता आएंगे. लेकिन अभी तक सीबीआई, ईडी और आईटी का भी इंतजार था और अब ये आ गए हैं.

दरअसल आज आयकर विभाग ने अखिलेश यादव के करीबी माने जाने वाले मनोज यादव और जैनेंद्र यादव के साथ ही एसपी प्रवक्ता राजीव राय के ठिकानों पर छापे मारे. आयकर विभाग ने लखनऊ के अलावा मैनपुरी, आगरा और मऊ में कार्यवाही की है और बताया जा रहा है कि यह कार्रवाई अभी भी जारी है.

आईये जानते हैं कौन हैं मनोज यादव और जैनेंद्र यादव

जानकारी के मुताबिक मैनपुरी के रहने वाले मनोज यादव अखिलेश यादव के करीबी मानेते हैं और वह आरसीएल ग्रुप का मालिक है. आज सुबह मोहल्ला बंशीगोहारा में आईटी विभाग की टीम मनोज यादव के घर पहुंची थी और पूरा घर सुरक्षाबलों से घेरा लिया और किसी को आने जाने की इजाजत नहीं थी. वहीं आयकर विभाग के अधिकारी 2 घंटे से अधिक समय से घर पर लोगों से पूछताछ कर रहे हैं. हालांकि अभी तक इस छापेमारी आईटी टीम को क्या मिला. इसकी जानकारी सार्वजनिक नहीं की गई है. वहीं लखनऊ में अखिलेश यादव के करीबी बताने वाले जैनेंद्र यादव उर्फ नीटू के गोमतीनगर स्थित घर और अन्य ठिकानों पर आईटी ने रेड की है. बताया जा रहा है कि टैक्स चोरी के मामले में आयकर विभाग की टीमों ने उनके घरों पर छापा मारा है. जानकारी के मुताबिक जैनेंद्र यादव पिछले बारह साल से अखिलेश यादव के साथ हैं और उनके अखिलेश यादव के साथ पारिवारिक रिश्ते हैं. अखिलेश यादव राज्य मे जब सीएम थे जब जैनेन्द्र यादव उनके ओएसडी हुआ करते थे.

इसके अलावा आयकर विभाग ने मऊ में सपा प्रवक्ता राजीव राय के घर पर भी छापा मारा है. हालांकि राजीव राय का कहना है कि मेरा कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं है.

अखिलेश बोले ने कहा, यूपी चुनाव में होगी है ईडी और आईटी की एंट्री

वहीं अपने करीबी नेताओं पर आयकर विभाग रेड के बाद अखिलेश यादव केन्द्र और राज्य सरकार पर आक्रामक हो गई है. उन्होंने कहा कि आम जनता को इस सरकार ने अपमानित किया है और किसानों की हत्या हुई और उनको आतंकी बताया. उन्होंने कहा कि सरकार ने किसानों पर फर्जी मामले दर्ज किए हैं. एसपी प्रमुख ने कहा कि उत्तर प्रदेश में बीजेपी को जैसे जैसे हार सताएगी, सीबीआई, आईटी और ईडी आएगी. लेकिन अब राज्य में साइकिल की रफ़्तार नहीं थमेगी. अखिलेश यादव ने कहा कि आजम खान साहब पर भी मुकदमें दर्ज किए हैं और किसानों पर भी मुकदमे दर्ज किए हैं।