Friday , September 30 2022

गोरखपुर में बोली प्रियंका “का हाल चाल बा”

गर्मजोशी से लोगों ने किया स्वागत

गोरखपुर। “का हाल चाल बा” इस चिरपरिचित पूर्वांचली अंदाज में प्रदेश के हताश बेरोजगार युवाओ को, बेतहाशा बढ़ती मंहगाई और सामाजिक,आपराधिक उत्पीड़न की शिकार महिलाओं को और बदहाली का दंश झेल रहे किसानों को सीधे कांग्रेस राष्ट्रीय महासचिव प्रभारी प्रियंका गांधी ने संवाद स्थापित किया।अपने उद्बोधन के दौरान श्रीमती प्रियंका गांधी ने प्रदेशवासियों में अपनी सभी 7 प्रतिज्ञाओ के प्रति  जन विश्वास दिलाया। उन्होंने प्रदेश सरकार के जनविरोधी तथ्यों और मामलों को लेकर अत्यधिक मुखर अंदाज में एक के बाद एक हमला किया। गोरखपुर के चंपा देवी पार्क में जैसे ही प्रियंका गांधी उदबोधन के लिए उठी,पूरे मंच और पंडाल से उठे उदघोष “मैं लड़की हूं,लड़ सकती हूं”  ने पूरे माहौल को अत्यधिक रोमांचित कर दिया।

गोरखपुर की सरजमीं पर पिछले तीन दशकों में पहली बार उमड़े कांग्रेस रैली के विशाल जनसमूह को संबोधित करते हुए कांग्रेस महासचिव श्रीमती प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि यह धरती विश्वास की धरती है। यहां के लोगों को अपनी मेहनत पर ,अपने धर्म पर और अपने नेताओं पर अटूट आस्था है। लोग जब अपने नेताओं पर आस्था रखते हैं तो वह मानते हैं कि उनके नेता सच्चाई और समर्पण के साथ उनके साथ खड़े हैं और उनका विकास व उत्थान करेंगे ।लेकिन वही नेता प्रोपेगेंडा के तहत बड़े-बड़े विज्ञापन दिखाकर अपने लोगों को ही गुमराह करते है कि बहुत काम हो रहा है।जबकि जमीनी स्तर पर विकास और काम की सच्चाई की तस्वीरें काफी विपरीत और शर्मनाक होती है।

नदी पर पहला अधिकार निषादों का

श्रीमती गांधी ने अपने सम्बोधन में प्रदेश की योगी सरकार की निरकुंशता पर प्रकाश डालते हुए कहा कि नदी पर पहला अधिकार निषादों का है,उनकी नावें उनकी माँ की भांति उनका पालनपोषण और जीविका चलती है।दुर्भाग्यपूर्ण यह रहा जब मैं प्रयागराज के बसवारा गांव गयी तो तानाशाही सरकार ने निषादों की नावों को जला डाला। प्रदेश में पहले से ही नदी अधिकारों से वंचित निषाद समाज का सरकारी उत्पीड़न चल रहा । उन्होंने अपने उद्बोधन में कहा कि दलित शोषित समाज के लिए कांग्रेस सदैव आगे बढ़कर आवाज उठा रही,उन्हें न्याय दिलाने के लिए मेरा संघर्ष जारी है।

श्रीमती गांधी ने कहा लखीमपुर में किसानों को कुचला गया और उनकी सुनवाई नहीं हुई ।किसान को सरकार डरा रही , प्रताड़ित कर रही है।किसान सरकारी अनियमितता से बुरी तरह है और  तमाम तरह की समस्याओं से जूझ रहा है।उत्तर प्रदेश का किसान ,दलित, पिछड़ा ,अल्पसंख्यक और खासतौर पर ब्राह्मण समाज को भी लगातार  योगी सरकार में प्रताड़ित किया जा रहा है।

झूठे विज्ञापन दिये जा रहे

उत्तर प्रदेश कांग्रेस प्रभारी श्रीमती गांधी ने आगरा थाने में दलित की निर्ममता से पीट पीट कर की गई हत्या के मामले पर योगी सरकार पर कड़े प्रहार किये। उन्होंने कहा कि वह  ललितपुर के उन पीड़ित किसान परिवारों से मिली, जिन्होंने खाद की लाइन में भूखे प्यासे दो दो दिनों तक खड़े खड़े दम तोड़ दिया।श्रीमती गांधी ने कहा कि मैं उनके छोटे-छोटे बच्चों से मिली ,उनके पत्नी बच्चे ,परिवारजनों के आंखों में आंसू और मां-बाप लाचार थे। पूरा परिवार कर्ज से डूबा हुआ है ।कुछ किसानों ने आत्महत्या भी की थी। सरकार के पास इन लाचार किसानों के लिए आज भी कोई ठोस कार्यक्रम व योजना नहीं है , मौतों के बदले केवल कुछ  मुआवजा देकर मामले को रफादफा करने की रणनीति पर सरकार चल रही। झूठे सरकारी दावे और झूठे विज्ञापनों के दम पर किसानों को लुभाने का स्वांग रच रही है।

श्रीमती प्रियंका गांधी ने सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि किसानों की आय दोगुना करने का वादा करने वाली योगी सरकार और केंद्र की मोदी सरकार ने प्रदेश भर में किसानों को बदहाली की स्थिति में पहुंचा दिया है। किसानों का कर्ज माफ करने की बात आती है ,तो सरकार आर्थिक अभाव बताती है और जब अपने औद्योगिक साथी का कर्जा माफ करने की बात होती है तो इसी सरकार ने करोड़ों करोड़ों रुपया उनका कर्जा माफ किया है।बीजेपी सरकार ने 70 साल की मेहनत की कमाई  को इन 7 साल में बर्बाद कर दिया है।प्रभारी श्रीमती प्रियंका गांधी ने कहा करोना काल में इस सरकार ने सभी छोटे उद्योग धंधे छोटे दुकानदारों के रोजगार को समाप्त कर दिया है बहुत सारे परिवार भुखमरी के कगार पर हैं ,लोग कर्ज में डूबे हैं।आज किसान दिन में ₹27 कमाता है और सरकार धनाढ्य उद्योगपति सरकार के सहयोग से हजारों करोड़ों रुपया कमा रहे हैं । प्रदेश के बेरोजगार युवा आत्महत्या कर रहे हैं। उत्तर प्रदेश में 10 लाख से ज्यादा पद खाली पड़े हैं। शिक्षामंत्री का भाई गरीब का सर्टिफिकेट लेकर नौकरी पाता है।

परेशान हैं कारोबारी

करोना कॉल में इस सरकार छोटे उद्योग व व्यापारियों पर जो हमला किया ।उससे पीड़ित परिवारों को सरकार आने पर 25 हजार की नगद सहायता राशि दी जाएगी।अपराध मुक्त प्रदेश का झूठ परोसने वाले  गृह मंत्री अमित शाह बोलते हैं कि उत्तर प्रदेश में दूरबीन से भी अपराधी ढूंढने पर नहीं मिलता जबकि उनके बगल में लखीमपुर में किसानों पर गाड़ी चढ़ाने वाले जघन्य अपराध के सूत्रधार गृह मंत्री अजय मिश्रा टैनी बगल में खड़े हुए हैं ।श्रीमती गांधी ने कहा दूरबीन कि नहीं आपको चश्मा लगाने की जरूरत है। श्रीमती गांधी ने कहा कि यूपी में खरबपतियों की सुनवाई होती है और गरीब की यहां कोई सुनवाई नहीं होती है।लखनऊ का विवेक तिवारी हत्याकांड ,कानपुर व्यवसाई मनीष गुप्ता की पीट-पीटकर थाने में हत्या हो ,लखीमपुर की बेटी का चीरहरण हो या उन्नाव में न्याय के लिए जा रही बेटीऔर उसके परिवार पर ट्रक चढ़ा कर हत्या करने का मामला हो ,हाथरस की बेटी जिसे आनन-फानन में रात के अंधेरे में हिंदू रीति-रिवाजों के विपरीत जाकर उसका दाह संस्कार किया गया।उसके परिजनों तक को दाहसंस्कार में शामिल नहीं किया गया और शव देखने तक को नही मिला।गोरखपुर में अपने बाप की पिटाई का वीडियो बना रही बेटी को पुलिस संरक्षण में गोली मार दी गयी।

हर स्तर पर लड़ेगी कांग्रेस

श्रीमती गांधी ने रैली अपील किया कि प्रदेश की महिलाएं आगे आए अपने हक हकूक के लिए आवाज उठाएं,कांग्रेस पार्टी उनको हर स्तर पर मजबूत करेगी और ताकत देगी।कांग्रेस पार्टी महिलाओं को 40 प्रतिशत टिकट देगी इस प्रमुख प्रतिज्ञा की टैग लाइन “मैं लड़की हूं, लड़ सकती हूं” को दोहराते हुए श्रीमती गांधी ने कहा कि महिलाओं के हक में कांग्रेस पार्टी ने जो प्रतिज्ञा किया है।उसका मात्र मकसद प्रदेश की महिलाओं को राजनीतिक और सामाजिक परिप्रेक्ष्य में सशक्त बनाना है और उनकी उचित सामाजिक भागीदारी सुनिश्चित करना है। इसके साथ ही इंटर पास छात्राओं को स्मार्टफोन और स्नातक पास को इलेक्ट्रॉनिक स्कूटी का वायदा कांग्रेस सरकार के बनने पर निश्चित रूप से निभा कर आधी आबादी को आत्मनिर्भर बनने की दिशा में ठोस पहल है। करोना कॉल में इस सरकार छोटे उद्योग व व्यापारियों पर जो हमला किया ।उससे पीड़ित परिवारों को सरकार आने पर 25000 की नगद सहायता राशि दी जाएगी।गोरखपुर समेत पूर्वांचल का स्वास्थ्य सेवाओं का जो हाल है वह आप सब से छुपा नहीं है किताबी दावे और फर्जी घोषणाओं के अलावा योगी सरकार के पास कुछ नहीं है।

उन्होंने कहा जहां भी जब आम जनता पर संकट आता है तो प्रदेश सरकार अपना चेहरा दूसरी तरफ से लेती है। प्रदेश में कांग्रेस की सरकार आने पर छत्तीसगढ़ की तर्ज पर  यहाँ भी गेंहू व धान के लिए ₹2500प्रति कुंटल का मूल निर्धारित किया जाएगा और गन्ना मूल्य 400 रुपया प्रति कुंटल होगा।श्रीमती प्रियंका गांधी जी अपनी प्रमुख प्रतिज्ञाओं को दोहराने के साथ-साथ ने महिलाओं के लिए हर साल 3 सिलेंडर मुफ्त, सरकारी बसों में यात्रा फ्री और आशा और आंगनबाड़ी कर्मियों के लिए 10,000 रू/माह के मानदेय की घोषणा की।उन्होंने ने कहा कि मत्स्य पालन को कृषि का दर्जा दिया जाएगा। निषादों को नदियों के संसाधनों व मत्स्यपालन का हक दिया जाएगा। इसके साथ ही उन्होंने गोरखपुर में गुरु मछेंद्रनाथ विश्वविद्यालय की स्थापना करने की भी घोषणा की।

कांग्रेस प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा ने सपा बसपा को आड़े हाथों लेते हुए कहा की जब प्रदेश का जनमानस सरकार की जनविरोधी नीतियों की वजह से संकट में है तो सपा बसपा कहां संघर्ष करती हुई दिख रही है ? यहां की चीनी मिलों को इन्हीं लोगों ने बारी बारी करके बेच दिया ।यहां का किसान भी बदहाली की राह पर पहुंच गया है। पूर्वांचल में अब जो उद्योग इकाइयों को स्थापित किया हैं,उसे भी कांग्रेस सरकार में अंजाम दिया गया। झूठे दावे और वायदों करने वाली योगी सरकार को साढ़े 4 साल तक  यहां के औद्योगिक विकास की  याद नही आयी।

सरदार बल्लभ भाई पटेल को किया नमन

रैली सम्बोधन के अंतिम पड़ाव में यूपी कांग्रेस प्रभारी श्रीमती प्रियंका गांधी ने सरदार वल्लभ भाई पटेल को नमन किया और अपनी दादी स्व.इंदिरा गांधी जी की शहादत को याद करते हुए अत्यंत भावुकता के साथ बोली कि स्व.इंदिरा जी को अपने अंत की सूचना थी,उन्होंने हम दोनों भाई बहन को बुलाकर कहा कि इस देश की आस्था और विश्वास कांग्रेस पार्टी है और हम सब कांग्रेसजनों मे है। विपरीत परिस्थितियों में भी हार नहीं मनाना है हम लोगों के प्रति जो श्रद्धा और भाव ,आस्था भारतीय जनमानस में है। उसे कभी भी कमजोर ना होने देना। श्रीमती श्रीमती प्रियंका गांधी ने भावुक स्वर में कहा कि मैं मरते मर जाऊंगी कभी झुकुगी नही, परन्तु आपके विश्वास और आस्था पर सदैव खरी उतरूंगी।आपसे जो मैंने वादा किया है अपनी सभी प्रतिज्ञाओ को पूरा करने के लिए मैं कटिबद्ध हूं।

रैली को छत्तीसगढ़ के रैली को छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष विधायक अजय कुमार लल्लू ,पूर्व केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद ,पूर्व मंत्री आरपीएन सिंह, पूर्व सांसद कमल किशोर का कमांडो ,पूर्व सांसद जितेंद्र सिंह, पूर्व मंत्री नसीमुद्दीन सिद्दीकी, अखिलेश प्रताप सिंह, इमरान प्रतापगढ़ी ,श्री वीरेंद्र चौधरी, श्री विश्व विजय सिंह सहित अनेक नेताओं ने संबोधित किया