Tuesday , September 27 2022

महाकाल मंदिर की भस्म आरती में अभिषेक बनकर घुसा मुसलमान, मचा हड़कंप, पुलिस ने दबोचा

ज्जैन। महाकाल मंदिर (Mahakal Temple) की भस्म आरती में फर्जी आईडी (Fake ID) दिखाकर एक युवक के घुसने से सनसनी है। युवक मुस्लिम समुदाय का है वो हिंदू युवती के साथ यहां आया था। मंदिर समिति की शिकायत पर पुलिस ने पूछताछ की और फिर युवक को गिरफ्तार कर लिया गया है। महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग की भस्म आरती में फर्जी आधार कार्ड लगाकर एक अल्पसंख्यक समुदाय के युवक के शामिल होने का मामला सामने आया है। मंदिर समिति ने मामला पुलिस को सौंप दिया है। महाकाल थाना पुलिस ने धारा 420 के तहत केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। युवक और उसके साथ आई युवती से पूछताछ की जा रही है।

ये मुस्लिम युवक कर्नाटक का है। बुधवार सुबह होने वाली भस्म आरती में शामिल होने के लिए कर्नाटक के मोहम्मद यूनुस मुल्ला ने अभिषेक दुबे के नाम से बुकिंग कराई। वो आरती में एक युवती के साथ शामिल हुआ। मंदिर में दोनों वीआईपी गेट नंबर 6 से दाखिल हुए और वीआईपीज के लिए रिजर्व जगह पर बैठ गए। लेकिन इस बीच मंदिर कर्मचारियों को कुछ शंका हुई और उन्होंने युवक से पूछताछ की। फिर पुलिस के हवाले कर दिया। महाकाल थाने में पूछताछ में पता चला कि युवक कर्नाटक का रहने वाला है। उसका नाम मोहम्मद यूनुस मुल्ला है, जबकि वह अभिषेक दुबे के नाम से भस्म आरती में शामिल हुआ था। महाकाल पुलिस ने युवक पर धारा 420 के तहत केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। मामले की जांच कर रही सीएसपी पल्लवी शुक्ला ने बताया कि यूनुस के साथ आई उसकी प्रेमिका के भाई का नाम अभिषेक दुबे है। यूनुस उसी के आधार कार्ड के जरिये भस्म आरती में शामिल हुआ था। लड़की ने यूनुस को अपना भाई बताकर एंट्री दिलाई थी। दोनों युवक युवती महाकाल मंदिर के नजदीक होटल में रुके थे। वहां दोनों ने अपना सही आधार कार्ड दिखाया था। होटल कर्मचारियों को शंका हुई तो पुलिस को मामले की सूचना दी। मंदिर समिति से सूचना मिलने के बाद युवक को गिरफ्तार कर लिया गया। पूरे मामले की जांच शुरू कर दी गई है।