Thursday , October 6 2022

मोदी-योगी की जोड़ी ने चार राज्यों में फहराया बीजेपी का परचम, पंजाब में आप की ऐतिहासिक जीत


नई दिल्ली। देश के पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी उत्तराखंड, गोवा और मणिपुर में स्पष्ट बहुमत हासिल कर दोबारा सत्तारूढ होने जा रही है जबकि उत्तर प्रदेश में वह स्पष्ट बहुमत की ओर तेजी से बढ रही है। पंजाब में आम आदमी पार्टी ने ऐतिहासिक जीत दर्ज कर राजनीति की दिशा बदल दी है।

भाजपा ने उत्तर प्रदेश की 403 विधानसभा सीटों में 197 सीटें जीत ली हैं और वह 58 सीटों पर आगे चल रही है। इस प्रकार भाजपा 255 एवं सहयोगी दल 19 सीटों पर आगे हैं। सपा को प्रदेश में 72 सीटाें पर सफलता मिली है और 38 सीटों पर आगे चल रही है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गोरखपुर शहरी सीट से एक लाख से ज्यादा वोटों से आगे चल रहे हैं जबकि करहल सीट पर पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव 67504 वोट से जीत गये हैं। उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य चिराथू विधानसभा सीट पर सपा की डॉ पल्लवी पटेल से करीब साढ़े सात हजार वोटों से पीछे चल रहे हैं।

उत्तराखंड में भाजपा ने 70 सीटों में से 40 सीटों पर जीत हासिल कर ली है और उसके सात उम्मीदवार आगे चल रहे हैं। कांग्रेस को 16 सीटों पर जीत मिली है जबकि तीन पर आगे चल रही है। राज्य विधानसभा चुनाव में निर्दलीय को दो सीटें मिली हैंं जबकि आम आदमी पार्टी का खाता तक नहीं खुला है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी तथा पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत चुनाव हार गये हैं।

पंजाब में तमाम सत्ता समीकरणों को ध्वस्त करते हुए नये राजनीतिक प्रयोग करने वाली आम आदमी पार्टी ने प्रचंड बहुमत हासिल करते हुए राज्य विधानसभा की 117 सीटों में से 92 सीटों पर कब्जा कर लिया हैं। इसके साथ ही राज्य में आप पार्टी ने कांग्रेस और अकाली दल का वर्चस्व खत्म कर दिया है। सत्तारूढ़ कांग्रेस को महज 18 सीटें मिली हैं। शिरोमणि अकाली दल को सिर्फ तीन सीटों पर संतोष करना पड़ा है। भाजपा को दो विधानसभा क्षेत्रों में जीत मिली है। बहुजन समाज पार्टी को एक सीट पर सफलता मिली है। एक सीट निर्दलीय के खाते में गयी है।

आप के लोकसभा सांसद भगवंत मान के नेतृत्व में पार्टी ने कांग्रेस और शिरोमणि अकाली दल के कई दिग्गजों को धूल चटा दी। मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी चमकौर साहिब सीट पर आप पार्टी के चरणजीत सिंह से 7942 मतों से तथा भदौर विधानसभा सीट पर आप पार्टी के लाभसिंह उगोके से 37 हजार 558 वोट से पराजित हुए हैं। कांग्रेस से अलग होकर नयी पंजाब लोक कांग्रेस बनाने वाले राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह पटियाला सीट से आम आदमी पार्टी के अजीत पाल कोहली 19 हजार 873 वोट से पराजित हुए हैं। आप के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार भगवंत मान धुरी विधानसभा सीट से 58 हजार 206 मतों से जीतें हैं जबकि पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू अमृतसर पूर्वी सीट पर तथा शिरोमणि अकाली दल के प्रकाश सिंह बादल लम्बी सीट से आप उम्मीदवार गुरमीत सिंह खुदीयां से पराजित हुए हैं।

गोवा विधानसभा की 40 सीटों में से 20 सीटों पर भाजपा ने विजय पताका फहराया है जबकि कांग्रेस ने 11 सीटों पर विजय हासिल की है। महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी और आम आदमी पार्टी ने दो-दो सीटों तथा गोवा फारवर्ड पार्टी और रेवोल्यूशनरी गोवन पार्टी ने एक-एक सीट पर कब्जा कर लिया है। निर्दलियों के हिस्से तीन सीटें आई हैं। मुख्यमंत्री प्रमोद सामंत अपनी सीट बचाने में कामयाब रहे हैं।

मणिपुर की 60 सीटों में से 55 के परिणाम आ चुके हैं जिनमें से भाजपा 28 जीत चुकी है और चार पर आगे चल रही है। नेशनल पीपुल्स पार्टी छह सीट जीत चुकी है और एक पर आगे चल रही है। जनता दल यूनाइटेड ने छह और कांग्रेस तथा नगा पीपुल्स फ्रंट ने पांच-पांच सीटें जीती हैं। मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह ने अपनी हिगांग सीट पर 18 हजार से अधिक वोटों से जीत हासिल की है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भाजपा को मिली जीत को ऐतिहासिक करार देते हुए कहा है कि यह मतदाताओं की जागरूकता की जीत है। उन्होंने कहा कि एक दिन ऐसा आएगा जब देश में जनता परिवारवादी राजनीति का सूर्यास्त करेगी। श्री मोदी ने इस बात पर चिंता व्यक्त की कि आज भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई होने पर कुछ ताकतें एक ‘इको सिस्टम’ का उपयोग करते हुए स्वतंत्र जांच एजेंसियों को ही घेरने में लग जाती हैं और न्यायालय किसी माफिया या भ्रष्टचार में लगे व्यक्ति को सजा देता है तो ये ताकते उसकी जाति धर्म के नाम पर बचाव करते हैं। उन्होंने कहा कि लोगों ने हमारी सरकार से भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई की अपेक्षा की है और सरकार उनकी अपेक्षा को पूरी करेगी।

कांग्रेस पार्टी के नेता राहुल गांधी ने कहा है कि पार्टी इन चुनाव परिणामों से सबक लेगी और वह देश की जनता के लिए काम करती रहेगी। पार्टी ने यह भी कहा है कि ये नतीजे उसकी अपेक्षा प्रतिकूल हैं और पार्टी इसको लेकर अंतरमंथन करेगी।
आम आदमी पार्टी ने पंजाब में पार्टी की जीत को ऐतिहासिक बताते हुए कहा है कि दिल्ली में केजरीवाल मॉडल सरकार की सफलता है और इसी के आधार जनता ने जनादेश दिया है।

इन विधानसभा चुनावाें में दो राज्यों के वर्तमान मुख्यमंत्री पुष्कर धामी (उत्तराखंड) और चरणजीत सिंह चन्नी (पंजाब) दोनों सीटों पर चुनाव हारे हैं।