Wednesday , October 5 2022

प्रतिदिन यूपी में न्यूनतम तीन से चार लाख किए जाएं टेस्ट : सीएम


नोडल अधिकारी जिलों की हर स्थिति पर रखें नजर-सीएम
1,96,502 जांचों में 3,121 कोरोना के मामलों की हुई पुष्टि
प्रदेश में 47 लोगों ने दी कोरोना संक्रमण को मात


लखनऊ। प्रदेश में कोरोना संक्रमण की चपेट से प्रदेशवासियों को सुरक्षित रखने के लिए जमीनी स्‍तर पर प्रदेश सरकार ने मोर्चा संभाल लिया है। सीएम योगी आदित्‍यनाथ के आदेशों के अनुसार यूपी में टेस्टिंग व टीकाकरण की रफ्तार को तेजी से बढ़ाया जा रहा है। जिसका परिणाम है कि यूपी में अब तक 09 करोड़ 39 लाख से अधिक टेस्‍ट व 20 करोड़ 69 से अधिक वयस्कों का टीकाकरण किया जा चुका है। प्रदेश में तीन जनवरी से शुरू हुए 15 से 18 साल के बच्‍चों के टीकाकरण अभियान में अब तक यूपी में 07 लाख से अधिक टीकाकरण किया जा चुका है। उत्तर प्रदेश को कोरोना काल में स्‍वास्‍थ्य सुविधाओं से लैस करने वाली योगी सरकार ने ऑक्‍सीजन प्‍लांट, बेड, डॉक्‍टरों व कर्मचारियों, अस्‍पताल, वेंटिलेटर की संख्‍या में इजाफा किया है जिसके कारण यूपी तीसरी लहर से लड़ने में पूरी तौर पर सक्षम है। प्रदेश में कोविड केबढ़ते मामलों को देखते हुए तैनात किए गए नोडल अधिकारी हर स्थिति पर सीधी नजर रख रहे हैं। सीएम ने हर दिन न्यूनतम तीन से चार लाख टेस्ट किए जाने के निर्देश अधिकारियों को दिए हैं।


जीनोम सिक्वेंसिंग की में लाएं तेजी : सीएम


केजीएमयू, आरएमएल और एसजीपीजीआई लखनऊ में जीनोम सिक्वेंसिंग की सुविधा को विस्तार देने के निर्देश सीएम ने दिए हैं। सीएम ने अधिकारियों से जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए आवश्यक मशीनें और मानव संसाधन की व्यवस्था को बढ़ाने के आदेश दिए हैं। बता दें कि जिन जिलों में एक्टिव केस की न्यूनतम संख्या 1,000 से अधिक होगी उन जिलों में नई व्यवस्था लागू होगी।


डेढ़ लाख से अधिक टेस्टिंग में मिले 3,121 केस


प्रदेश में बीते 24 घंटों में 1,96,502 जांचों में 3,121 कोरोना के मामलों की पुष्टि हुई। प्रदेश में कुल एक्टिव कोविड केस की संख्‍या 8,224 है। प्रदेश का रिकवरी रेट 98.2 प्रतिशत दर्ज किया गया। बीते 24 घंटों में 47 लोगों ने कोरोना संक्रमण को मात दी है।