Thursday , October 6 2022
सोशल मीडिया

रामपुर सांसद आजम खां की भैंस ढूंढने में एक्सपर्ट रामपुर जिले की पुलिस अब ढूंढेगी कांग्रेस नेता की घोड़ी

लखनऊ/रामपुर। सपा नेता आजम खान (Azam Khan) के इलाके रामपुर की पुलिस (Rampur police) जानवरों को ढूंढने में बहुत माहिर है. जब आजम सपा सरकार में मंत्री थे तो उनकी खोई भैंसों (Azam Khan’s buffalo) को ढूंढने में इलाके की पुलिस ने दिन-रात एक कर दिया था और उन्हें ढूंढ भी निकाला था. अब यहां की पुलिस को जानवरों को ढूंढने का काम फिर से मिल गया है और इस बार उन्हें सपा नेता की भैंसें नहीं बल्कि एक कांग्रेसी नेता की घोड़ी (Congress leader’s mare) को खोज निकालना है.

चक्की के पीछे से कोई खोल ले गया घोड़ी

प्राप्त जानकारी के अनुसार रामपुर कांग्रेस किसान के जिलाध्यक्ष नाज़िश खान की घोड़ी गायब हो गई है. उन्होंने शिकायत दर्ज कराई है कि उनकी पालतू घोड़ी चोरी हो गई है. उसका नाम रानी है. उसकी उम्र 4 वर्ष है, रंग काला है और मुंह सफेद है. उनकी यह घोड़ी थाना कोतवाली इलाके के मोहल्ला तोपखाना गेट, हजरत पुर चौराहा पर जावेद लाला की चक्की के पीछे बांधी जाती थी. वहां से ही कोई इसे खोल के ले गया है.

82 हज़ार रुपए में खरीदी थी

कांग्रेस नेता के अनुसार उसने ये घोड़ी डेढ़ साल पहले 82 हज़ार रुपए की कीमत में खरीदी थी, अभी तो उसकी कीमत बहुत ज्यादा हो सकती है. वह उनके परिवार का ही हिस्सा है. काफी तलाश करने पर भी जब वह नहीं मिली, तो फिर पुलिस में शिकायत दर्ज कराते हुए घोड़ी बरामद करने की अपील की है. अब यहां की पुलिस पर इस चोरी गई घोड़ी को ढूंढ कर लाने का जिम्मा आ पड़ा है।

जानवर ढूंढने में एक्सपर्ट है रामपुर की पुलिस

रामपुर पुलिस पहले भी अपराधियों को पकड़ने से ज्यादा टाइम तो चोरी हुए जानवरों के पीछे भागने में ही खर्च करती रही है. उनके आजम की भैंसों का किस्सा तो सभी जानते हैं. इसके अलावा पुलिस ने तत्कालीन डीएम अमित किशोर के पालतू कुत्ते जर्मन शेफर्ड जोजो को भी 24 घंटे में जमीन आसमान एक करके खोज निकाला था. यहां की पुलिस ने कई केसों में मुर्गी, बकरी आदि जानवरों को भी ढूंढ निकाला है.