Monday , September 26 2022

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी को बम से उड़ाने की धमकी, गूगल पर भी है न्यूज

लखनऊ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर बम से हमला करने की धमकी 112 कंट्रोल रूम के ट्विटर हैंडल पर भेजी गई थी। धमकी भरा पोस्ट आने पर मामले की गंभीरता को देखते हुए क्राइम ब्रांच को जांच सौंपी गई है। दीपावली वाले दिन 112 कंट्रोल रूम के ट्विटर हैंडल पर दीपक शर्मा नाम के अकाउंट से मैसेज आया था। जिसमें पीएम और सीएम पर बम से हमला किए जाने की बात लिखी है। ट्वीट में कई अन्य आपत्तिजनक शब्दों का भी इस्तेमाल किया गया है। जेसीपी क्राइम नीलाब्जा चौधरी के मुताबिक धमकी भरा ट्वीट भेजने वाले ट्विटर हैंडल के बारे में जानकारी जुटाई जा रही है। मामले की जांच क्राइम ब्रांच को सौंपी गई है। जेसीपी के मुताबिक जल्द ही धमकी देने वाले को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

भाजपा सांसद साक्षी महाराज को भी मिल चुकी है धमकी

यूपी के उन्नाव से भाजपा सांसद साक्षी महाराज को भी जान से मारने की धमकी मिल चुकी है। साक्षी महाराज को अक्टूबर के आखिरी महीने में सउदी अरब से बम से उड़ाने की धमकी फोन पर दी गई थी। साक्षी महाराज की शिकायत पर पुलिस तत्काल हरकत में आई थी। मामले में पुलिस ने चार लोगों के खिलाफ गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज किया था। सफीपुर की पुलिस क्षेत्राधिकारी बीनू सिंह ने बताया था कि सांसद साक्षी महाराज के प्रतिनिधि हसनैन बकाई ने सफीपुर कोतवाली में दर्ज कराए गए मुकदमें में आरोप लगाया था कि एक व्यक्ति ने फोन पर सांसद को बम से उड़ाने की धमकी दी थी। उन्होंने बताया कि इस मामले में मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू की गई थी, जिसमें सगीर नामक युवक का नाम सामने आया था। इसके  बाद सफीपुर के ही रहने वाले सईद अहमद नामक व्यक्ति को गिरफ्तार भी कर लिया गया था।

यूपी के 46 स्टेशन को भी बम से उड़ाने की मिल चुकी है धमकी

अक्टूबर महीने के अंत में यूपी के 46 रेलवे स्टेशनों को आतंकी संगठन लश्कर-ए- तैयबा ने उड़ाने की धमकी दी थी। 46 स्टेशन में हरिद्वार, अयोध्या और वाराणसी जैसे तीर्थ स्थान भी शामिल थे। खुफिया अलर्ट मिलने के बाद रेल महकमा में हड़कंप मच गया था। पीडीडीयू जंक्शन, वाराणसी कैंट स्टेशन समेत अन्य स्टेशनों पर चौकसी बढ़ाई गई थी। लश्कर-ए-तैयबा ने यूपी के वाराणसी