Friday , September 30 2022

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आजमगढ़ का नाम बदलकर आर्यमगढ़ करने के दिये संकेत

लखनऊ। गृहमंत्री अमित शाह के साथ शनिवार को आजमगढ़ पहुंचे सीएम योगी ने पिछली सरकार पर कई प्रहार किए। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आजमगढ़ का नाम बदलकर आर्यमगढ़ करने का संकेत दिए हैं। उन्होंने कहा कि एक राज्य विश्वविद्यालय की स्थापना वास्तव में ‘आजमगढ़ को आर्यमगढ़’ में बदल देगी। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के साथ शनिवार को आजमगढ़ जिले में एक स्टेट यूनिवर्सिटी की आधारशिला रखते हुए, यूपी के सीएम ने कहा इसमें कोई संदेह नहीं होना चाहिए कि यह यूनिवर्सिटी सही मायने में ‘आजमगढ़ को आर्यमगढ़’ में बदल देगी। समाजवादी पार्टी के नेता अखिलेश यादव के गृह क्षेत्र आजमगढ़ में कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा, पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में सरकार ने होली तक सभी 15 करोड़ अंत्योदय कार्डधारकों को गेहूं और चावल सहित मुफ्त भोजन उपलब्ध कराने का फैसला किया है। सरकार ने गरीब और हाशिए के लोगों की देखभाल की जिम्मेदारी ली है। आजमगढ़ में यूनिवर्सिटी के शिलान्यास समारोह के दौरान शाह के साथ सीएम योगी आदित्यनाथ, केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान और भाजपा के अन्य नेता मौजूद थे।

सीएम योगी से पहले गृहमंत्री अमित शाह ने अखिलेश के गढ़ में चुनावी नब्ज टटोली। मंच से केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री अमित शाह ने शनिवार को कहा कि जिस आजमगढ़ को दुनिया भर में सपा शासन के अंदर कटटरवादी सोच और आतंकवाद की पनागाह के रूप में जाना जाता था उसी भूमि पर आज मां सरस्वती का धाम बनाने का काम हो रहा है। आजमगढ़ में राज्य विश्वविद्यालय का शिलान्यास और विकास योजनाओं के लोकापर्ण कार्यक्रम में शाह ने पूर्ववर्ती अखिलेश सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी एक जैम (जेएएम पोर्टल) लाये हैं ताकि भ्रष्टाचार विहीन खरीदी हो सके, उसमें जे का मतलब है जनधन बैंक एकाउंट, ए का मतलब है आधार कार्ड और एम का मतलब है हर आदमी को मोबाइल। उन्होंने सपा पर व्यंग्य करते हुए कहा, गुजरात में जब इस बारे में मैने बोला तो एक समाजवादी पार्टी (सपा) के नेता बोले हम भी जैम लाये हैं। मैने पता कराया कि इनका जैम क्या है, तो पता चला समाजवादी जैम का मतलब है जे से जिन्ना, ए से आजम खान और एम से मुख्तार अंसारी। अब आप बताइयें आपको भाजपा का जैम चाहिये या समाजवादी पार्टी का।

शाह ने कहा कि ये लोग यूपी का भला नहीं कर सकते, उनका काम समाज को जात-पांत में बांटना, दंगे कराना, तुष्टीकरण करना और वोट बैंक की राजनीति को आगे बढ़ाना है। उन्होंने कहा कि जैसे ही चुनाव आया है अखिलेश को जिन्ना बहुत महान दिखने लगे हैं। उन्होंने भीड़ से पूछा, किसी को जिन्ना में महान व्यक्ति की बात नजर आती है। चुनावी मौसम आया है तो अखिलेश जी को वह याद आ रहे हैं। लेकिन मैं अखिलेश को एक बात कहता हूं कि मैं योगी सरकार को एक सर्टिफिकेट देकर जाना चाहता हूं उन्होंने पूर्वांचल को मच्छर और माफिया दोनों से मुक्त कर दिया गया है।