Friday , September 30 2022

एक और देश महारानी एलिजाबेथ के हाथ से गया

मुंबई। कैरिबियाई देश बारबाडोस ने सोमवार की देर रात ब्रिटेन की महारानी एलिज़ाबेथ द्वितीय को अपने राष्ट्र के प्रमुख के रूप में त्याग दिया और ख़ुद को एक नया गणतंत्र घोषित किया। बारबाडोस ने इसी के साथ ही तक़रीबन 400 पुराने अपने औपनिवेशिक संबंध को समाप्त कर दिया और देश में पहली बार राष्ट्रपति पद की शपथ दिलाई गई। इस कैरिबियाई द्वीप पर पहला अंग्रेज़ी जहाज़ 400 साल पहले पहुंचा था। समाचार एजेंसी रॉयटर्स की रिपोर्ट के मुताबिक़, राजधानी ब्रिज़टाउन के चेम्बरलेन ब्रिज पर आधी रात को इकट्ठा भीड़ ने नए गणतंत्र के पैदा होने का जश्न मनाया। इस दौरान हीरोज़ स्क्वेयर पर 21 तोपों की सलामी दी गई और बारबाडोस का राष्ट्रीय गान गाया गया। ब्रिटिश तख़्त के वारिस प्रिंस चार्ल्स इस मौक़े पर वहीं मौजूद थे जब महारानी एलिज़ाबेथ के शाही मानदंड को त्यागा जा रहा था और नए बारबाडोस की घोषणा हो रही थी।