Wednesday , October 5 2022

बप्पी दा के निधन से देश हुआ स्तब्ध

नई दिल्ली। गायन की दुनिया की बेताज बादशाह रही लता मंगेशकर के बाद अब सिंगर-कम्पोजर बप्पी लहरी इस दुनिया में नहीं रहे। उनके निधन के बाद परिवार की ओर बयान जारी किया गया है। उनके बेटे बप्पा लॉस एंजिलिस में हैं। उनके आज आने पर बप्पी लहरी को अंतिम विदाई दी जाएगी। बप्पी लहरी के करीबी ने बताया कि उनकी आखिरी बात अपनी बेटी रेमा से हुई थी। उन्हीं की गोद में बप्पी दा ने दम तोड़ा था। पिता को खोने के बाद बेटी रेमा बेसुध हैं। बप्पी लहरी को स्वास्थ्य से जुड़ी कई समस्याएं थीं। बीते साल उन्हें कोरोना भी हुआ था। मंगलवार को उनकी हालत बिगड़ गई थी। इसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। डॉक्टर दीपक नामजोशी ने बताया कि ऑब्स्ट्रक्टिव स्लीप एप्निया की वजह से उनका निधन हो गया। बप्पी लहरी के निधन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, सचिन तेंदुलकर, अजय देवगन, अक्षय कुमार, अनुपम खेर सहित कई बड़ी हस्तियों ने शोक जताया है। काजोल, तनुजा, अल्का याज्ञ्निक, शर्बानी मुखर्जी सहित इंडस्ट्री से कई लोग बप्पी दा के अंतिम दर्शन के लिए उनके घर पहुंचे।

गोल्ड चेन पर माइकल जैक्सन भी थे फिदा


बप्पी लहरी को उनके सोने से लगाव के लिए जाना जाता था। वह गले में बेहद खूबसूरत गोल्ड चेन्स पहनते थे। इसमें से गणपति के लॉकेट वाली चेन को वह अपना लकी चार्म मानते थे। एक बार उनसे मिलने पर माइकल जैक्सन का दिल डिस्को किंग की चेन पर आ गया था। हालांकि बप्पी लहरी ने उनको चेन नहीं दी। इसके पीछे खास वजह बताई थी।


लता मंगेशकर को मां मानते थे बप्पी


बप्पी लहरी लता मंगेशकर को मां मानते थे। 10 दिन पहले उनके निधन पर उनके साथ अपनी तस्वीर शेयर की थी। साथ में मां लिखकर टूटे दिल वाला इमोजी बनाया था।

ममता बनर्जी ने बंगाल के बेटे को किया याद


बप्पी लहरी के निधन पर पॉलिटिकल लीडर्स ने भी दुख जताया है। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा, लेजंडरी सिंगर और म्यूजिक कंपोजर बप्पी लहरी के निधन पर सदमे में हूं। नॉर्थ बंगाल का एक लड़का जिसने अपने टैलेंट और मेहनत के बल पर पूरी दुनिया में प्रसिद्धि पाई, संगीत के लिए उनके योगदान पर हमें गर्व है।

प्रधानमंत्री ने जताया शोक


बप्पी लहरी के निधन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट करके शोक जताया है। पीएम मोदी ने लिखा है, श्री बप्पी लहरी जी का संगीत खूबसूरती से अलग-अलग भावों को व्यक्त करता था। हर जनरेशन के लोग उनके काम से रिलेज कर सकते थे। उनके खुशमिजाज व्यवहार को सभी याद करेंगे। उनके निधन का दुख है। उनके परिवार और चाहने वालों के लिए संवेदना। ओम शांति।